बुधवार, 31 मार्च 2021

गजल

नौकर लग मजबूरी नमहर
मालिक लग छै पूँजी नमहर

बैसल गानै दाने दाना
भरले पेटक रोटी नमहर

बेरा बेरी घिरना पसरै
नेहक छै मंजूरी नमहर

हमहूँ देखल चानन लेपल
पाखंडी के वेदी नमहर

अपना देशक अतबे लीला
भूखल लग छरछोबी नमहर

"छरछोबी" मैथिलीमे प्रचलित नै अछि। एकर मतलब छै पैखानाक खत्ता। सभ पाँतिमे 22-22-22-22 मात्राक्रम अछि। बहरे-मीर। सुझाव सादर आमंत्रित अछि। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों