Tuesday, 13 April 2010

गजल

गीत जं गाबी तं कोनो दर्द जागय
अतल मोनक दोग मे क्यो टीस बागय

ई शहर, ई सडक, ई वीरान मन
अहँक बीतल नेह सन किछु अपन लागय

प्रीत जे बिलहय अहँक मुस्की तरुण
सैह हमरा सं हमर बलिदान मांगय

हुलकि रहले लगे कोनो क्रान्ति छाया
आर मोनक शान्ति कत्तहु दूर भागय

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों