शुक्रवार, 25 सितंबर 2015

रुबाइ



हमर गाममे बहुत धुरंधर छै घरे घर
नाला पोखरि धार समुंदर छै घरे घर
गाछ पात डारि फूल बिया खेत खरिहान
दालि भात अचार चहटगर छै घरे घर

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों