Thursday, 28 April 2011

गजल

अहाँक मोमक करेज ये बचा कए राखु
हमर दिल में बड़ आगि ये बचा कए राखु

चाँदौ के माति दए ये अहाँक एही रूप
करिया ठोप लगाए कए राखु

अन्हारो में चमकै ये भेपर जोंका
रूपक लाइट मिझा
कए राखु

आँखिक दुधारी मारैत ये जान
हमरा नजैर से बचाए कए राखु

आतुर ये 'सुनील' अहाँक प्रतीक्षा में
कनिकटा समय तेs बचाए कए राखु

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों