Wednesday, 26 February 2014

गजल

चन्ना चमकै चान सन
मूहो तोहर पान सन  

सूपक पहिया गोल छै  
लागै हाथी कान सन  

अधबोली सन बात जे
खनकै सोनक खान सन

उप्पर नीचा दौड़ धूप  
ठेस लगेलक छान सन

फूटल फुक्का जोर से
पुक्की पाडल तान सन

२२२२ २१२

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों