Monday, 24 March 2014

गजलक माध्यमसँ कथाक लोकप्रियता लेल कहल गेल ढेर रास बात -(राजीव रंजन मिश्र आ ओम प्रकाश झा द्वारा)

गजलक माध्यमसँ कथाक लोकप्रियता लेल कहल गेल ढेर रास बात -(राजीव रंजन मिश्र आ ओम प्रकाश झा द्वारा)-
८१म सगर राति दीप जरय कथा गोष्ठीक आयोजन देवघरमे २२ मार्च २०१४ शनि दिन संध्यासँ २३ मार्च २०१४ रवि दिन भोर धरि सम्पन्न। ई आयोजन देवघरमे बमपास टाउन स्थित "बिजली कोठी" नम्बर ३ मे श्री ओम प्रकाश झा जीक संयोजकत्वमे सम्पन्न भेल।
८२ म सगर राति ३१ मइ २०१४ केँ मेँहथ गाममे हएत। ई विशुद्ध रूपसँ बाल कथा (विहनि आ लघु कथा) विशेषांक रहत। संयोजक- गजेन्द्र ठाकुर।

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों