Friday, 23 December 2011

रुबाइ


बैसल बैसल घरमे खाईछे पूरी पकवान पूवा
चौक चौराहा बैसक दिनभईर खेलैछे तास जुवा
काम करैय में भजाईतछे रोगी खाईमें बड़ा भोगी
मिट मछली सैद्खन चाही उप्पर सं मिष्ठान खुवा

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों