Thursday, 1 March 2012

गजलक इस्कूल भाग-1


गजलक एकटा मिसरा (पाँति) दए रहल छी। जे केओ गोटे साँझ ७ बजे धरि पूरा करताह। हुनका इ पाँति रचनाक रूपमे सौंपि देल जेतन्हि। इ पाँति एना अछि---------

मोड़ पर भेटबे करत ओ

दीर्घ-ह्रस्व-दीर्घ+ दीर्घ-ह्रस्व-दीर्घ +दीर्घ-ह्रस्व-दीर्घ

बहर----बहरे-मुतदारिक
· · · 4 January at 14:37

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों