Sunday, 22 July 2012

रूबाइ

रूबाइ -111

सोनाक हार नै अहाँ के प्यार देब
साड़ी कपड़ा नै नेहक पहाड़ देब
बस दिअ अहाँ संग हमरा अंत घड़ी धरि
लाखो कड़ोर त' नै हँसी हजार देब

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों