Monday, 14 January 2013

कता

कता

ओ ओहि पार बैसल करेलथि आँनलाइन प्रेम
झटहा एहन चलेलथि बिनु देखने मरि गेलौं
गप मीठ मीठ कऽ ओ तँ रचेलथि आँनलाइन प्रेम
ठंढ़ाएल प्रेमक आगिमे बुझू हम तँ जड़ि गेलौँ

No comments:

Post a Comment

तोहर मतलब प्रेम प्रेमक मतलब जीवन आ जीवनक मतलब तों